मोबाइल के नुकसान 

ज  के समय में प्रत्येक व्यक्ति मोबाइल इस्तेमाल करता है यह हमारे लिए जितना उपयोगी है उतना ही नुकसानदेह भी तो दोस्तो आज हम आपको बताएंगे की मोबाइल से क्या-क्या नुकसान है व इससे किस प्रकार बचा जा सकता है।

                 दोस्तो वैसे तो मोबाइल के बहुत नुकसान है पर मैं आज आपको मोबाइल से होने वाले एक रोग के बारे में बताऊंगा जिसका नाम है smartphone blindness जी हाँ दोस्तो यह मोबाइल से होने वाला ऐसा रोग है जो रात के अंधेरे में या कम रोशनी में मोबाइल उपयोग करने से होता है अंधेरे में मोबाइल इस्तेमाल करते समय यदि आपकी एक आँख खुली व एक आँख बंद है तो आप अस्थायी तौर पर अंधे हो सकते हैं इस रोग की पुष्टि द न्यू इंगलैंड जर्नल आॅफ मेडिसिन ने की है इस रोग का विवरण उनके दवा्रा तैयार रिपोर्ट'स्मार्टफोन से आँखों पर असर'में दिया गया है।
mobile ke nuksan in hindi
                        mobile ke nuksan

smartphone blindness से आँखों की रोशनी 15 से 20 मिनट के लिए चली जाती है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारी आँखों का रेटिना बहुत संवदेनशील होता है यह अंधेरे से रोशनी या रोशनी से अंधेरे में जाते वक्त खुद को समायोजित(adjust) करता है अंधेरे से रोशनी में जाने पर रेटिना को पूर्णतः संवदेनशील होने में 5-7 मिनट लगते है वहीं रोशनी से अंधेरे में जाने पर रेटिना को पूर्णतः संवदेनशील होने में 30-40 मिनट लगते हैं। दोस्तो यदि आप इस रोग का शिकार नहीं होना चाहते हैं तो देर रात तक मोबाइल के उपयोग से बचें और यदि आप रात में मोबाइल का उपयोग करते हैं तो यह ध्यान रखें कि कमरे में रोशनी जरुर हो।

mobile ke nuksan in hindi
mobile ke nuksan

मोबाइल के नुकसान 


इसके अलावा मोबाइल से निकलने वाली रेडिएसन भी इतनी खतरनाक है कि जेब में रखा मोबाइल कैंसर देने वाली मशीन  की तरह काम करता है। मोबाइल को सीने से लगाकर रखने वाली महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर तेजी से फेल रहा है। पुरुषों के लिए मोबाइल जेब में रखना दिल के खतरनाक होता है इनके अलावा मोबाइल से सरदर्द,निंद में परिवर्तन,सुनने में समस्यायें,व्यवहार में परिवर्तन आदि समस्ययें होती हैं।
mobile ke nuksan in hindi
mobile ke nuksan

      मोबाइल के इन खतरों से बचने के लिए  मोबाइल  को शरीर से सीधा चिपके नहीं रहने देना चाहिए,बात करते समय हेडफोन या ईयरफोन का इस्तेमाल करना चाहिए, सोते समय मोबाइल को पास में नहीं रखना चाहिए, बच्चों को मोबाइल से दूर रखना चाहिए।

      यदि आप अपने मोबाइल का रेडिएसन लेवल(sar) जानना चाहते हैं तो अपने मोबाइल से डायल करें *#07#

             रेडिएसन लेवल का मान 1.6 w/kg से कम होना चाहिए


IS POST ME HAMNE AAPKO BATAYA KI MOBILE KE NUKSAN KYA KYA HAI

0 Comments